भगवान धन्वंतरि कौन है? धनतेरस पर इनकी पूजा क्यों होती है?

Join Us On WhatsApp Join Now
Join Us On Telegram Join Now

भगवान धन्वंतरि: हिंदू धर्म में सबसे महत्वपूर्ण त्योहारों में दीपावली का त्योहार बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। दीपावली का त्यौहार पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है, जो धनतेरस से शुरू होकर भाई दूज तक चलता है। सनातन धर्म को मानने वाले लोग इस त्योहार को ५ दिनों तक बड़े धूमधाम से मनाते हैं। हिंदू पंचांग के अनुसार, कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को धनतेरस का पर्व बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है।

भगवान धन्वंतरि

भगवान धन्वंतरि कौन है?

धन्वंतरि को श्री विष्णु का ही अंश माना जाता है। शायद यही कारण है कि धनतेरस के दिन धन्वंतरि की पूजा की जाती है। धार्मिक ग्रंथों के अनुसार इसी दिन धन्वंतरि का जन्म हुआ था। कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को धनतेरस का त्योहार बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। इस दिन भक्त श्री गणेश, कुबेर और देवी लक्ष्मी की पूजा करते हैं। माना जाता है कि ऐसा करने से देवता प्रसन्न होते हैं और घर में धन वैभव और सुख समृद्धि बढ़ती है। आज हम आपको बताएंगे कि धनतेरस क्यों मनाया जाता है? इस दिन कौन से बर्तन खरीदना बेहद शुभ होता है, तो आइए जानते हैं।

धनतेरस कब है?

वैदिक पंचांग के अनुसार इस वर्ष कार्तिक कृष्ण त्रयोदशी तिथि का प्रारंभ १० नवंबर को दोपहर १२:३५ मिनट पर हो रहा है. यह तिथि ११ नवंबर को दोपहर ०१:५७ बजे तक वैध है। ऐसे में प्रदोष काल १० नवंबर को शुरू हो रहा है, इसलिए इस साल धनतेरस १० नवंबर, शुक्रवार को है।

धनतेरस क्यों मनाया जाता है?

धार्मिक ग्रंथों के अनुसार कहा जाता है कि समुद्र मंथन के दौरान कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को धन्वंतरि हाथ में कलश लेकर समुद्र से प्रकट हुए थे। इतना ही नहीं, मान्यता के अनुसार धन्वंतरि को श्री विष्णु का ही अंश माना जाता है। शायद यही कारण है कि धनतेरस के दिन धन्वंतरि की पूजा की जाती है। इतना ही नहीं धनतेरस के दिन धन्वंतरि के साथ-साथ माता लक्ष्मी और कुबेर देव की भी पूजा करने की परंपरा है। कहा जाता है कि धनतेरस के दिन मां लक्ष्मी की पूजा करने से घर में धन की कमी नहीं होती है साथ ही परिवार में सुख-शांति बनी रहती है.

Read Also: Ford Endeavour भारत में वापस

धनतेरस पर क्या खरीदना शुभ होगा?

धनतेरस के शुभ दिन नए बर्तन खरीदने का विधान है। मान्यता के अनुसार धन्वंतरि जन्म के समय अमृत कलश लिए हुए थे। इसी वजह से इस दिन बर्तन खरीदना बहुत खास माना जाता है। अगर जातक धनतेरस के दिन कलश खरीदना चाहते हैं तो यह बहुत महत्वपूर्ण है।

धनतेरस पर घर लाएं ये ७ चीजें, १३ गुना बढ़ जाएगी संपत्ति

धनतेरस के दिन ७ चीजें खरीदकर घर लाना बहुत शुभ माना जाता है। इन चीजों को घर लाने से धन्वंतरि और मां लक्ष्मी दोनों प्रसन्न होते हैं।

१. झाडू

ऐसा कहा जाता है कि झाडू में धन की देवी मां लक्ष्मी का वास होता है। धनतेरस के दिन घर में नई झाडू लाने से मां लक्ष्मी प्रसन्न हो जाती हैं।

२. धनिये के बीज

धनतेरस पर धनिये के बीज खरीदने की भी परंपरा है। धनतेरस के दिन धनिया खरीदने से घर में सकारात्मकता और सुख-समृद्धि आती है।

३. शृंगार का सामान

धनतेरस के दिन विवाहित महिलाओं को सोलह श्रृंगार का सामान देना शुभ होता है।

४. बर्तन

धनतेरस पर बर्तन खरीदने की भी परंपरा है। इस दिन पीतल का बर्तन खरीदकर घर की पूर्व दिशा में रखें तो बेहतर रहेगा

५. गोमती चक्र

स्वास्थ्य और समृद्धि के लिए धनतेरस के दिन ११ गोमती चक्रों को पीले कपड़े में बांधकर अपनी तिजोरी में रखें।

६. व्यवसाय का सामान

धनतेरस के दिन आप अपने व्यवसाय से जुड़ा कोई सामान खरीद सकते हैं। जैसे राइटर पेन, आर्टिस्ट ब्रश और छात्रों के लिए पुस्तकें आदि

७. धार्मिक ग्रंथ

धनतेरस के दिन आप धार्मिक ग्रंथ खरीद सकते है या फिर भेंट स्वरूप दे सकते है।

ऐसी नई अपडेट के लिए Follow करे – Okay

Click to rate this post!
[Total: 1 Average: 5]